What is the Dividend | Definition of the Dividend | All About Dividend | Dividend Kya Hai

By: Nutan Srivastava

What is the Dividend | Definition of the Dividend | All About Dividend | Dividend Kya Hai | dividend ke kya fayede hain | What is the Dividend - Definition of the Dividend

नमस्कार दोस्तों तो आज हम जिस विषय पर चर्चा करेंगे वो है  डिविडेंड  लोग अक्सर मुझसे इसके बारे में पूछते रहते हैं कि डिविडेंड क्या है और ये कंपनी क्यों और कैसे देती हैं " तो मैंने इस पर लेख लिखा है ताकि उन लोगों को इसके बारे में पूरी जानकारी हो सके तो चलिए शुरुआत करते हैं 


डिविडेंड :-

ये बाई बैक की तरह ही काफी प्रचलित है ट्रेडर्स में और इन्वेस्टर दोनों में क्योंकि डिविडेंड एक प्रकार का पे आउट होता है जो कंपनी निश्चित अवधी को अपने शेयर होल्डर को देती है वो इसका अपने शेयर के अनुसार कुछ  परसेंटेज के हिसाब से होता है ये 1% भी हो सकता है या 30% भी कुछ भी हो सकता है

Read This : How to make money from share market - शेयर मार्किट से पैसा कैसे कमायें

इसका निर्णय कंपनी के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर का होता है पर कुछ ऐसी भी कम्पनियां है जो डिविडेंड रेगुलर देती हैं और साल में 4 से 5 बार देती हैं उन कंपनियों को काफी अच्छा माना जाता है और इससे कम्पनी के भविष्य का पता चलता है और इन पर ट्रेडर्स और इन्वेस्टर को ज्यादा भरोसा होता है

इसका कारण ये है की कोई भी जो ऐसी कम्पनी के शेयर खरीदकर रखेगा उसमे कम्पनी की ग्रोथ से शेयर तो बढ़ेगा ही साथ ही अगर 4 या 5 बार  डिविडेंड मिल गया तो उसका फायेदा अलग से मिलेगा इसको एक उदाहरण से समझते है और एक चार्ट भी देखते हैं


TCS कम्पनी का जो हर साल 4 से 5 बार डिविडेंड देती है TCS के शेयर की वैल्यू १ साल पहले यानि की फरवरी 2020 में इसका रेट 1877 रूपए था और तभी इसने डिविडेंड भी दिया था मार्च में जो कि आपको नील गोले में दिखाया गया है

इसने पिछले एक साल में 5 बार डिविडेंड दिया और ये 1877 से बढ़कर कहाँ तक गया आप स्वयं चार्ट में देख सकते हैं अब आपको प्रॉफिट का एक उदाहरण देती हूँ माना की आपने 100 शेयर लिए फरवरी 2020 में 2025 के भाव पर तो आपका इन्वेस्टमेन्ट हुआ 202500 अब इसका दाम है 3114 मतलब 311400 टोटल प्रॉफिट 311400 - 202500 = 108900

ये सिर्फ एक साल का रिटर्न है और अगर ये 5 बार डिवीडेड भी देती है तो अगर एक बार का डिविडेंड 20 भी है तो 100 x 20 x 5 = 10000 रूपए की अतिरिक्त आय


जब किसी को कुछ फ्री मिलता है तो उसे बहुत ख़ुशी होती है यहां जो मैंने आपको बताया तो आपको भी बहुत अच्छा और आसान लग रहा होगा किन्तु ये इतना आसान और अच्छा भी नहीं है जितना आप समझ रहे हैं इसके लिए भी आपको कुछ रिसर्च करनी पड़ती है वो क्या है वो मै आपको बताती हूँ 

1. किसी डिविडेंड वाले शेयर को लेने से पहले उसकी डिविडेंड के पुराने इतिहास को देखना बेहद जरुरी होता है 

2. कभी - कभी डिविडेंड बहुत ज्यादा आकर्षित होता है जैसे अभी कुछ समय पहले अम्बुजा सीमेंट ने 17 रूपए और हिन्दुस्तान ज़िंक ने 21.30 रूपए का डिविडेंड दिया था जबकि इनके शेयर की वैल्यू बहुत कम हैं और ये क्रमशः उस समय 264 और 240 थी तब इतना मोटा डिविडेंड दिया था 

3. पुराने इतिहास से मेरा मतलब ये है कि जो कंपनी ने डिविडेंड का ऐलान किया है वो कैसी है और क्या वो पिछले कुछ साल से लगातार ग्रोथ कर रही है और डिविडेंड वाले दिन वो कितनी गिरावट के साथ खुलता है 

4. आपको ये देखना है कि आगे इस कम्पनी की ग्रोथ क्या रहने वाली है कहीं लोग इसे केवल डिविडेंड के ही लिए तो नहीं ले रहे हैं 

5. कंपनी का फंडामेंटल कैसा है या कंपनी पर कितना क़र्ज़ है 

ये तो बात हुई रिसर्च की अब बात करती हूँ डिविडेंड वाले शेयर लेने से क्या लाभ होता है :-


1. इसका सबसे बड़ा लाभ ये है कि ये सीधे हमारे बैंक अकाउंट में आता है अब आप सोचोगे की पैसा चाहे ट्रेडिंग अकाउंट में जाए या बैंक में बात तो वही है तो आपका सोचना सही है लेकिन इसको एक उदाहरण से समझते हैं माना की एक आदमी जो की सरकारी नौकरी करता था और वो रिटायर हो जाता है और उसको रिटायरमेन्ट के बाद 25 लाख रूपए मिलते हैं

अब वो चाहता है कि वो इस पैसे को ऐसे इन्वेस्ट करे की उसको महीना या तिमाही कुछ रिटर्न भी मिलता रहे और पैसा भी बढ़ता रहे तो ये उसके लिए बढ़िया है कि वो अपने पैसे से उन 5 - 5 कम्पनियों का चुनाव करे जो रेगुलर डिविडेंड भी देती हैं और आगे इसमें ग्रोथ भी अच्छी है 

2. अब हम इसी उदाहरण को आगे बढ़ाते हैं की वो अगर TCS कंपनी के साथ जाता है और मानलीजिए कि सारा पैसा उसी में लगा देता है तो वो २५ लाख में तो वो आज के भाव 3114 के हिसाब से करीब 800 शेयर खरीदता है अब इसका दाम मान लीजिये की एक साल बाद 3300 भी अगर हो जाता है तो उसको 3300 - 3114 = 186 रूपए  शेयर पर मतलब 800 x 186 = 148800 रूपए का प्रॉफिट होता है

अगर कम्पनी  4 से 5 बार डिविडेंड देती है 20 रूपए भी तो 4 x 20 = 80 रूपए एक शेयर का और आपने लिए 800 तो 800 x 800 = 64000 रूपए सालाना, अगर वो अलग - अलग कम्पनी के शेयर को लेता है तो यही पैसा महीने के हिसाब से भी मिल सकता है 

ये तो बात थी डिविडेंड से होने वाले लाभ की अब बात करते हैं इसके नुक्सान की जी हाँ हर सिक्के के दो पहलु होते हैं तो वो यहां भी लागू होता है 


1. जैसा की मैंने अपनी पहले की पोस्ट टेक्निकल एनलिसिस में भी बताया था की शेयर की वैल्यू अपनी वैल्यू में सब कुछ समाहित कर लेती है और वैसे भी जितना कम्पनी ने डिविडेंड का ऐलान किया है उसके दाम जिस दिन उसके आखिरी दिन उसकी वैल्यू में एडजस्ट हो जाती है और वो  गैप डाउन खुलता है वैसे ये हर शेयर के साथ नहीं होता किन्तु अधिकतर के साथ होता है 

2. वैसे कुछ कम्पनियां ऐसी भी हैं जो डिविडेंड बहुत ही अच्छा देती हैं और सरकारी भी हैं किन्तु वो लगातार निचे जा रही हैं उनमे पैसा लगाने से बचना है आपको इसी लिए मैंने ऊपर बताया था कि पिछला इतिहास देखना बेहद जरूरी है मै यहां आपको एक चित्र दिखाती हूँ इसमें ज्यादा कुछ बताने को नहीं है सिर्फ ये दिखाना मेरा उद्देश्य है कि अच्छा डिविडेंड का मतलब ये नहीं कि कंपनी अच्छा रिटर्न भी देती है और आप चित्र  देख सकते हैं कि शेयर लगातार नीचे जा रहा है कई साल से


3.अब मै आपको गैप डाउन ओपनिंग का चित्र दिखती हूँ जब अम्बुजा सीमेंट ने मोटा डिविडेंड दिया था पर यह 10 रूपए नीचे खुला किन्तु कंपनी अच्छी थी तो इसने जल्दी ही इसको रिकवर भी कर लिया

         

अब सबसे मुख्य बात आती कि आपको करना क्या है जिससे आपका फायदा हो न कि नुक्सान उसके लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखना है

1. सबसे पहले आपको देखना हैं कि जिस कंपनी ने डिविडेंड का ऐलान किया है उसका इतिहास क्या है मतलब पिछली ग्रोथ , कंपनी की आगे आने वाले समय में ग्रोथ की कैसी संभावना है 

2. डिविडेंड के बाद की रिकवरी कैसे होती है मतलब जल्दी ही रिकवर हो जाता है या एक दो महीने वहीँ पर टिका रहता है 

3. आगे आने वाले समय में कंपनी का प्लान क्या है क्या वो बढ़िया प्लान है या क्या कोई कंपनी को नया प्रोजक्ट मिलने वाला है कहीं कोई बुरी खबर तो नहीं आने वाली है 

4. अगर सब कुछ आपको बढ़िया दीखता है और आपने माना कि अम्बुजा सीमेंट के 100 शेयर जिस पर 17 रूपए का डिविडेंड था 262 पर ले लिया अब ये डिविडेंड वाले दिन 252 पर खुला आपको 17 रूपए का फायदा तो मिला डिविडेंड से लेकिन 10 रूपए का नुक्सान आप नहीं लेना चाहते क्यों कि आपको पता है कि इस शेयर का भविष्य अच्छा है तो ऐसे में आपको कुछ शेयर और खरीद कर इसे एवरेज कर लेना चाहिए ताकि आपका लोस्स जल्दी ही कवर हो जायेगा 


अब मेरे ख्याल से आपको समझ में आ गया होगा इसका फायदा , नुक्सान और लेने का तरीका अगर आपका कोई सवाल हो तो आप मुझसे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं मै आपके हर सवाल का जवाब देने के लिए प्रतिबद्ध हूँ तो आप मुझे फॉलो करें ताकि आपको मै ऐसी ही महत्वपूर्ण जानकारी देती रहूं तो दोस्तों आज के लिए बस इतना ही अब विदा चाहूंगी

मै आपको बतादूँ की मैंने टेलीग्राम पर अपना नया चैनल शुरू किया है किन्तु अभी उस पर लोग जुड़ना शुरू हुए हैं और इसमें बहुत से लोग जुड़ना भी चाहते हैं तो उनके आग्रह पर मै उस पर भी अपनी नई - नई पोस्ट जल्द ही डालना शुरू करुँगी तो आप जो भी लोग इससे जुड़ना चाहते हैं वो जुड़ सकते हैं आप " Share Market Guru  " के नाम से सर्च कर सकते हैं हो सकता है यहां आपको इस नाम के और भी कुछ चैनल दिखें तो आप फोटो से पहचान सकते हैं - धन्यवाद् 

Must Read : - 


Nutan Srivastava

Stock Market, Intraday, Fundamental, Candle Stick, Support-Resistance, IPO, Chart, Earn Money online, LIC IPO, Health & Life Insurance,World Market,

1 टिप्पणियाँ

If you have any doubt pls. let me know or leave a comment ... इस ब्लॉग की सभी जानकारी Education purpose के लिए है, किसी निवेश से पहले अपने फाइनेंसियल सलाहकार से जरुर सलाह ले

एक टिप्पणी भेजें
और नया पुराने