Bull Put Spread Strategy In Hindi | बुल पुट स्प्रेड स्ट्रैटजी इन हिंदी


Bull Put Spread Strategy In Hindi | बुल पुट स्प्रेड स्ट्रैटजी इन हिंदी 




बुल पुट स्प्रेड भी बुल कॉल स्प्रेड स्प्रेड की ही तरह दो चरणों वाली स्प्रेड होती है और इसका भी इस्तेमाल हम तब करते हैं जब आपका नजरिया मार्किट को लेकर स्पष्ट न हो जहाँ एक और बुल कॉल स्प्रेड में कॉल को लेकर स्प्रेड बनाया जाता है वहीँ बुल पुट स्प्रेड में पुट को लेकर स्प्रेड बनाया जाता है यहां ध्यान देने वाली बात ये है कि दोनों का पे ऑफ एक जैसा ही होता है। 


अब जबकि दोनों का पे ऑफ एक जैसा ही होता है तो बुल पुट स्प्रेड ही क्यों जब हमने बुल कॉल स्प्रेड को समझ ही लिया है तो, तो इसका जवाब है ऑप्शन के प्रीमियम जब मार्किट में एक बड़ी गिरावट होती है तो ऑप्शन के प्रीमियम बढ़े हुए होते हैं और जहां एक ओर बुल कॉल स्प्रेड का इस्तेमाल डेबिट के तौर पर किया जाता है वहीँ दूसरी ओर बुल पूत का इस्तेमाल क्रेडिट के तौर पर किया जाता है।


आपको ये भी पढ़ना चाहिए :-

Candlestick Patter In Hindi


बुल पुट स्प्रेड क्यों बनाई जाती है :-


1. बाजार के काफी गिरने की वजह से ऑप्शन के प्रीमियम काफी बढ़ चुके हैं। 

2. एक्सपायरी अभी काफी दूर है। 

3. वोलैटिलिटी काफी ज्यादा हाई है। 


सारांश :- जब आपका नजरिया मार्किट को लेकर बुलिश हो गया है किन्तु स्पष्ट नहीं है तो ऐसे में हम पुट के बढे हुए ऑप्शन के प्रीमियम का फायदा उठाएंगे, नेट डेबिट लेने की बजाये नेट क्रेडिट लेना ज्यादा अच्छा मन जाता है। 


आपको ये भी पढ़ना चाहिए :-

Technical Analysis In Hindi Part - 1 

Technical Analysis In Hindi Part - 2

Technical Analysis In Hindi Part - 3 


Bull Put Spread Strategy In Hindi | बुल पुट स्प्रेड स्ट्रैटजी इन हिंदी


बुल पुट स्प्रेड की स्ट्रेट्जी बनाना :-

जैसा कि आप जानते हैं कि ये भी दो चरणों वाली स्ट्रेट्जी होती है और इसमें अधिकतर ITM और OTM ऑप्शन का इस्तेमाल किया जाता है। 


1. एक पुट ऑप्शन के OTM को खरीदें। 

2. एक पुट ऑप्शन के ITM को बेचें। 


इसमें आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए :-


1. दोनों ऑप्शन का चुनाव करने के लिए एक ही एक्सपायरी सीरीज़ को चुने। 

2. ऑप्शन की संख्या हर चरण में एक ही जैसी हो। 


आपको ये भी पढ़ना चाहिए :-

What Is Stock Market


अब मान लीजिये एक्सपायरी 19 मार्च 2020 है और आपका नजरिया है कि अब गिरावट थम सकती है और मार्किट ऊपर जा सकता है, निफ़्टी का स्पॉट प्राइस 7810 है अब आपको कुछ इस तरह बुल पुट स्प्रेड बनाना है। 


1. 7700 PE खरीदें जो कि 72 रुपये का है ये OTM ऑप्शन है और इसे हमने ख़रीदा है इसलिए हम प्रीमियम अदा करेंगे अतः ये डेबिट होगा। 

2. 7900 PE बेचें जो कि 163 रुपये का है ये ITM ऑप्शन है और इसे हमने बेचा है इसलिए ये हमे प्राप्त होगा अतः ये एक क्रेडिट होगा। 

3. इन दोनों स्प्रेड में दोनों  प्रीमियम का अंतर -72 +163 = 91 जो कि पॉजिटिव है और हमारे एकाउंट में क्रेडिट होगा। 


जैसा कि आपने मार्किट का अनुमान ऊपर जाने का लगाया था किन्तु ये मार्किट है और किसी भी दिशा में जा सकता है तो क्या तो क्या-क्या परिस्थिति हो सकती है आइये जानने की कोशिश करते हैं :-


परिस्थिति - 1 :- अगर निफ़्टी की एक्सपायरी 7600 पर होती है यानि कि जो आपने PE ख़रीदा था उससे नीचे आपको शायद याद होगा कि एक्सपायरी के समय पुट की एन्ट्रेंसिक वैल्यू :-


Max ( Strike Price - Spot Price,0 ) 

= Max ( 7700 - 7600,0 )

= Max ( 100,0 )

= 100 

चूँकि हमने 7700 का PE ख़रीदा था जिसके लिए हमने 72 रुपये का प्रीमियम अदा किया था अतः हमारी कुल कमाई होगी --

= 100 -72 = 28 रुपये 

आपको ये भी पढ़ना चाहिए :-

Best Indicator For Trading

Best Indicators For Intraday


अब जो हमने 7900 की पुट बेचीं थी उसकी इंटरेंसिंक वैल्यू होगी 300 रुपये किन्तु इसमें हमें 163 रुपये पहले ही मिल चुके थे तो इसमें पे ऑफ होगा --

163 - 300 = -137 रूपए 
अतः पूरी स्ट्रेटजी का पे ऑफ होगा 28 - 137 = -109 ( माइनस 109 )


परिस्थिति - 2 :- अगर निफ़्टी की एक्सपायरी 7700 पर होती है यानि कि नीचे की प्राइस पर 

7700 PE की कोई भी एन्ट्रेंसिक वैल्यू नहीं है तो ये जीरो हो जायेगा मतलब 72 रुपये जीरो हो जायेंगे 


7900 PE की इन्ट्रेंसिक वैल्यू होगी करीब 200 तो कुल पे ऑफ बनेगा 

163-200-72 = -109 ( डेबिट )


परिस्थिति - 3 :- अगर निफ़्टी की एक्सपायरी 7900 पर होती है यानि कि नीचे की प्राइस पर

7700 PE और 7900 PE की वैल्यू जीरो हो जाएगी और इसका पे ऑफ होगा = 163 -72 = 91 


आपको ये भी पढ़ना चाहिए :-

Questions Hub Share Market 


परिस्थिति - 4 :- अगर निफ़्टी की एक्सपायरी 8000 पर होती है यानि कि ऊपर के प्राइस पर 

7700 PE और 7900 PE की वैल्यू जीरो हो जाएगी और इसका पे ऑफ होगा = 163 -72 = 91 


आइये इसको एक चार्ट में देखते हैं :-




इसमें कुछ ध्यान देने योग्य बातें हैं :-


1. जब मार्किट में तेज़ी होगी तब इसमें आपको फायदा होगा। 

2. आपका अधिकतम मुनाफा 91 है।  

3. गिरावट में अधिकतम आपका नुक्सान 109 रुपये सिमित है। 

4. स्प्रेड का मतलब ऊपर की और नीचे की स्ट्राइक प्राइस का अंतर होता है। 


आपको ये भी पढ़ना चाहिए :-

What Is Buy Back In Share Market


इसमें खास बात ये है कि हम स्ट्राइक प्राइस से पता लगा सकते हैं कि हमें किस स्ट्राइक प्राइस में कितना लोस्स और कितना प्रॉफिट होना है यहां मै आपको इसे एक चार्ट के माध्यम से दिखती हूँ। 




जैसा कि आप देख सकते हैं कि इस स्ट्रेट्जी में मैक्स लॉस 109 का और मैक्स प्रॉफिट 91 का ही है। 


ब्रेकइवेन निकालना :-


ब्रेकइवेन पॉइंट यानि कि जहां पर इस स्ट्रेट्जी में न तो मुनाफा होगा और नहीं लोस्स वो है 7809 ( ऊपर चार्ट में देख सकते हैं ) अगर मार्किट 7809 पर बंद होता है मतलब बुल पुट का ब्रेक इवेन = ऊपर की स्ट्राइक - नेट क्रेडिट ( दोनों प्रीमियम का अंतर )


बुल पुट में पैसे कब बनते हैं :-


जब मार्किट 7809 के ऊपर बंद होता है तब पैसे बनते हैं हालांकि नफा और नुक्सान सिमित ही होता है। 


आपको ये भी पढ़ना चाहिए :-

What Is Dividend In Share Market


कुछ लोग शायद ज्यादा मुनाफा की भी सोच रहे होंगे और अलग स्ट्राइक के बारे में भी विचार कर रहे होंगे कि अगर हम की अलग स्ट्राइक का चुनाव करें तो क्या होगा तो चलिए कुछ और उदाहरण देखते हैं। 





कुछ मुख्य और ध्यान देने वाली बातें :-

1. मुख्यतया इसका प्रयोग दो वजहों से किया जाता है एक जब आपका नजरिया बाज़ार को लेकर स्पष्ट न हो और दूसरा हेज करके अपने मार्जिन ( जो कि सेलिंग में बेहद ज्यादा पड़ता है ) को काम करने के लिए इस पर हम आगे आने वाले अध्याय में विस्तार से बात करेंगे। 

2. इसमें OTM पुट को ख़रीदा और ITM पुट को बेचा जाता है। 

3. मुनाफा और नुक्सान दोनों सीमित ही रहता है। 

4. स्प्रेड जितनी बड़ी होगी मुनाफा और नुक्सान उतना ही बड़ा होगा। 

5. ब्रेक इवेन = हाई स्ट्राइक - नेट क्रेडिट 


उम्मीद है कि आप इसको भली-भाँती समझ गये होंगे अगर आपका कोई सवाल हो या कहीं कोई डाउट हो तो कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं धन्यवाद्। 


आपको ये भी पढ़ना चाहिए :-

Candlestick Patter In Hindi

Bull Put Spread Strategy In Hindi | बुल पुट स्प्रेड स्ट्रैटजी इन हिंदी 


डिस्क्लेमर :-

इस ब्लॉग पर दी गयी सभी जानकारी Education purpose के लिए है, किसी भी निवेश से पहले अपने फाइनेंसियल सलाहकार से सलाह अवश्य ले, यहां जो स्टॉक के बारे में बताया गया है ये सिर्फ एक उदाहरण मात्र है इनमे निवेश की मेरी सलाह कदापि नहीं है। 

Nutan Srivastava

Stock Market, Intraday, Fundamental, Candle Stick, Support-Resistance, IPO, Chart, Earn Money online, LIC IPO, Health & Life Insurance,World Market,

If you have any doubt pls. let me know or leave a comment ... इस ब्लॉग की सभी जानकारी Education purpose के लिए है, किसी निवेश से पहले अपने फाइनेंसियल सलाहकार से जरुर सलाह ले

एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने